तहसील में फर्जीवाड़े का मामला… तिकड़ी की मदद के लिए सामने आया अष्टाम फरोश किंग

पिता की तिकड़ी पहले भी कर चुकी है गलत काम

सारे मामलों से उठाया जाएगा पर्दा ताकि जेल की हवा खा सके तिकड़ी

हर हाल में पर्चा होगा दर्ज- सब रजिस्ट्रार

जालन्धर (लखबीर)

तहसील में जाली व्यक्ति खड़ा करके रजिस्ट्री करवाने का मामला सामने आया था। मामले के तूल पकड़ने के बाद फर्जीवाड़ा करने वालों ने हांथ पैर मारने शुरू कर दिए हैं। सूत्रों अनुसार तहसील के ही एक वसीका नवीस के रिश्तेदारों ने जालसाजी को अंजाम दिया है। वहीं दूसरी ओर सब रजिस्ट्रार ने भी कार्रवाई करने के आदेश जारी कर दिए हैं। सब रजिस्ट्रार अनुसार तफतीश शुरू कर दी है तथा इस में कोई भी व्यक्ति आरोपी पाया जाएगा,  उसके खिलाफ पर्चे दर्ज करवाए जाएंगे।

कौन हैं फर्जीवाड़ा करने वाले…

फर्जीवाड़ा करने वाले कोई ओर नहीं तहसील का एक वसीका नवीस, भतीजा अष्टाम फरोश व मुख्य आरोपी जिसने सारा खेल खेला है, अष्टाम फरोश का पिता है। लोगों की मानें तो इस फर्जीवाड़े से निकलना मुशिकल ही नहीं नामुमकिन है। मुख्य आरोपी अमरजीत, उसका भाई अशोक कुमार व बेटे सोनू को जेल की हवा खाने से कोई नहीं बचा सकता।

पहले भी दे चुके हैं कई गलत कामों को अंजाम…

तहसील की यह तिकड़ी पहले भी कई गलत कामों को अंजाम दे चुकी है, जिसमें करोड़ों रुपए कमा चुके हैं। जानकारी अनुसार नार्थ हलके तथा शहर के अन्य स्थानों पर भी इसी तरह उक्त तिकड़ी ने गेम घुमा कर लाखों अंदर किए थे। अब उन पुराने मामलों से भी पर्दा उठाया जाएगा ताकि लम्बे समय से लोगों को रगड़ा लगाने वाली इस तिकड़ी को जेल की हवा खिलाई जा सके।

तहसील का अष्टाम फरोश किंग आया बाहर…

वहीं दूसरी ओर तहसील का अष्टाम फरोश किंग भी बाहर निकल आया है तथा उसने आरोपियों की खुलेआम सिफारशें शुरू कर दी हैं। बतादें कि यह वही अष्टाम फरोश किंग है, जो करोड़पति अष्टाम फरोश के नाम से भी मशहूर है। पता चला है कि उक्त अष्टाम फरोश ने फर्जीवाड़ा करने वालों को सारंक्षण दे रखा है तथा उन्हें हर तरह से बचाने का वादा कर रहा है। पर बतादें कि फर्जीवाड़ा करने वालों की सिफारिश करने वाले अष्टाम फरोश को भी इस बार मूंह की खानी पड़ेगी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!