तहसील में फिर फर्जीवाड़ा… फंसेगे कर्लक, पिता-पुत्र, भतीजे व नंबरदार के साथ-साथ साहिब…

फर्जी व्यक्ति को खड़ा कर करवाई जाली रजिस्ट्री

जाली आधार कार्ड व तैयार किए अन्य दस्तावेज, लाखों में घूमी गेम

मामला रोजाना न्यूज 24 के ध्यान में आने बाद आया बाहर

जालन्धर (लखबीर)

सब रजिस्ट्रार दफ्तर जालन्धर किसी न किसी कारण चर्चा का विषय बनते आ रहे हैं। चाहे वह प्राइवेट करिंदों को रखने का मामला हो, चाहे एन.ओ.सी. के बदले रिश्वत का मामला हो या फिर चाहे किसी अधिकारी का स्टिंग आप्रेशन ही क्यों न हो दफ्तर चर्चा में बने ही रहते हैं। इसी तरह नए मामला सामने आया है, जिस दौरान एक अटारनी के सहारे जाली व्यक्तियों ने रजिस्ट्री करवा ली है।

क्या है मामला…

तहसील के ही एक व्यक्ति के पास कोई पुरानी अटारनी पड़ी थी, जिसका इस्तेमाल करके उसने रजिस्ट्री करवा ली। इसमें उसने एक जैसे नाम का फायदा उठाया तथा जाली आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज तैयार करके जाली व्यक्ति को खड़ा करके काम को अंजाम दे दिया है। फिल्हाल आपने आप को बचाने के लिए नंबरदार, अधिकारी, कर्लक व अन्य व्यक्ति जिन्होंने जाली व्यक्ति खड़ा करके काम करवाया है, पूरा जोर लगा रहे हैं।

फंस सकते हैं नंबरदार व तीन अन्य लोग…

इस नए मामले में जिस में एक फर्जी व्यक्ति ने खड़े हो कर अटारनी से रजिस्ट्री करवा ली है, उसमें अधिकारी, कर्लक, नंबरदार के साथ-साथ पिता-पुत्र व भतीजे के फंसने के पूरे चांस हैं। नंबरदार ने इन गल्त व्यक्ति को तसदीक किया तथा अधिकारी व कर्लक ने बिना दस्तावेज देखे रजिस्ट्री कैसे कर दी यह सवाल खड़ा हो चुका है।

लाखों रुपए किए अंदर…

चाहे ढाई मरले जमीन का फर्जीवाड़ा हुआ है पर सूत्रों अनुसार इस गंगा में नीचे से लेकर ऊपर सब ने हाथ धोए हैं। सूत्रों अनुसार इस कहानी को सब ने मिलकर तैयार किया था पर किसी तरह मामला रोजाना न्यूज 24 के ध्यान में आने कारण बाहर आ गया। जानकारों की मानें तो इसमें पिता-पुत्र व भतीजे का साथ दफ्तर के कुछ अंदरूनी भेड़ों ने दिया है, जिससे पर्दा जरूर उठाया जाएगा तथा चाहे इस मामले में किसी भी रैंक का मुलाजिम या अधिकारी शामिल हो उसे नंगा किया जाएगा।

बात अभी बाकी है…

 

 

Fakewada again in Tehsil ... stranded Karlak, father-son, nephew and numberdar as well as Sahib ...

 

Leave a Reply

error: Content is protected !!